ऑफिस में काम करते पकराए दो कर्मचारी , काम के दौरान Amazon पे शॉपिंग ना करने का लगा इल्जाम | कड़ी फटकार और दो कूपन दे कर छुट्टे कर्मचारी |

बैंगलोर के इंद्रानगर से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है | घटना Manyata Tech Park की बताई जा रही है | हमारे रिपोर्टर नितिन कमल ने समय पे पहुंच के आग को और भड़काने का काम बहुत अच्छे से किया है |


टीम के मैनेजर श्री खन्ना गुरूजी आज ऑफिस जल्दी पहुँच गए थें | चार बजे ऑफिस पहुंचते ही उन्हें ये विश्वास था की सारे कर्मचारी 3 चाय और 6 नाश्ते के ब्रेक के बाद आराम से Amazon या Flipkart पे शॉपिंग कर रहे होंगे | जैसे ही गुरूजी ने Netflix पे लॉगिन किया वैसे ही उनकी नज़र टीम के दो सदस्यों पे पड़ी जो कोने में छुप के कुछ टाइप कर रहे थें |

शुरू में तो गुरूजी ने आदत अनुसार दोनों को नजरअंदाज कर दिया , लेकिन 50 मिनट बाद Sacred Games को फिर से revise करने के बाद जब उन्होंने अपनी नज़र उठाई तो देखा की Developer सरताज सिंह और Tester गणेश गाईतोंडे अभी भी वही बैठ के कुछ तो कांड कर रहे थें |


गुरूजी ने तुरंत उठ के पहले तो दो चाय पी और फिर एक हाथ में समोसा लेकर , जब दोनों को पीछे से देखा तो उनके पैरों तले से ज़मीन और हाथों से समोसा खिसक गया |

सरताज और गाईतोंडे को रंगे हाथों पकड़ते गुरूजी


सरताज और गाईतोंडे बिना मतलब की बातें कर रहे थें , जैसे की प्रोजेक्ट को जल्दी कैसे ख़तम किया जाए , सॉफ्टवेयर को अच्छे से टेस्ट कैसे किया जाए , इत्यादि |


गुरूजी को गहरा सदमा तो तब लगा जब उन्हों ये पाया की दोनों ही नालायक कर्मचारियों के स्क्रीन पे Amazon या Flipkart का कोई पेज खुला भी नहीं था |
ऑफिस में ये ख़बर आग की तरह फ़ैल गई |


दिन के 4 आर्डर मंगवाने वाली बबली कुमारी ने सैंडल के डब्बे से सरताज पे हमला कर दिया | इस आक्रोश को देखते हुए ऑनलाइन आर्डर के बादशाह बद्री प्रसाद (वही TVF वाले ) ने सिस्टम को दोष देते हुए 2 दिन की छुट्टी और 3 दिन के वर्क फ्रॉम होम की माँग कर दी और बिना समय बर्बाद किये बैग उठाया और वहाँ से चम्पत हो लिए |

सरताज़ और गायतोंडे ने अपने इस बर्ताव के लिए माफ़ी मांगी है और इस महीने production को हाथ भी ना लगाने की कसम खा |

गुरूजी ने बड़ा दिल दिखते हुए दोनों को माफ़ किया लेकिन EOD तक दो – दो आर्डर करने की चेतावनी देते हुए episode 3 को revise करने चलते बने |

कैमरा मैन – रोहित फरांदे
रिपोर्टर – नितिन कमल

यू.पी.एस.ई की तैयारी कर रहा छात्र CAT सेंटर पे पकड़ाया , बच्चों ने अरुण शर्मा फेंक किया घायल |

पिटाई करते आने वाले समय के मैनेजर्स

24 नवंबर को दिल्ली के प्रगति मैदान के कैट सेंटर पे एक सनसनी खेज हादसे में एक लड़का लहूलुहान हो गया|
दिल्ली के गुरु तेज़ बहादुर इलाके के छात्र गुफ्तगू कुमार जो पिछले वर्ष यू.पी.एस.ई की तैयारी करने दिल्ली आए थें उनकी तब तबियत से कुटाई हो गई जब कुछ मनचले छात्रों ने उन्हें कैट के सेंटर के बाहर एडमिट कार्ड के साथ पकड़ लिया |

पेशे से छात्र और खाली समय में इंजीनियर बने इस मिस्टर गुफ्तगू पे तब सब की नज़र पड़ी जब एडमिट कार्ड निकालते हुए उनके बैग के अंदर से लक्ष्मी कान्त की आवाज़ आई |
बैग में रखी Indian Polity की इस किताब ने ख़ैर इस बात का खण्डन किया लेकिन तब तक लोगों ने उन्हें मिट्टी चखा दी थी |


इंसानियत को शर्मशार कर देने वाली इस घटना में बच्चों का गुस्सा तब और बढ़ गया जब verbal सेक्शन में उनके कटऑफ भी बमुश्किल पार हो पा रही थी | बताया जाता है की गुफ्तगू ख़ाली समय में छुप -छुप कर बैंक पी.औ. की भी तैयारी करता था |


Quant में सिर्फ सात सवाल बनाने वाले छात्र श्री R.S.Aggarwaal ने गुस्से में गुफ्तगू पे अरुण शर्मा की किताब से हमला कर दिया | इस धमाचौकड़ी में दो नॉन – इंजीनियर भी परीक्षा देते पकड़े गए |
पुलिस ने सारे नॉन – इंजीनियर को हिरासत में ले लिया है और प्रशाशन ने उन्हें पटक – पटक के पीटने का आश्वाशन दिया है |

रिपोर्टर – नितिन कमल

दूसरे के प्लेट से फ़ोटो लेते फ़ूड ब्लॉगर पकड़ाया , रेस्टोरेंट के मालिक ने की जम के धुलाई | बर्तन धुलवा पापों का किया प्रायश्चित |

पिटाई के तुरंत पहले नितिन की तस्वीर

इंसानियत को शर्मिंदा कर देने वाली इक घटना में कल बैंगलोर के ‘पंजाबी ब्य नेचर ‘ रेस्टोरेंट में लोगो ने एक युवक की पिटाई कर दी |
नितिन कमल नामक इस युवक पे इल्जाम था की ये दूसरे की प्लेटों से खाने की फ़ोटो ले कर वहाँ से रफूचक्कर हो जाता है |
शुक्रवार को जब नितिन रेस्टोरेंट पंहुचा तो उसका अगला निशाना श्री जसप्रीत थें | जसप्रीत ने अमृतसरी नॉन के साथ जब चिकन बटर का आर्डर दिया तो नितिन के कान खड़े हो गए |
बताया जाता है की टेबल के निचे से सरकते हुए वो जसप्रीत के कुर्सी के पास पहुंच गए | आदत अनुसार जसप्रीत ने जब एक्स्ट्रा बटर के लिए वेटर को बुलाया तो नितिन ने टेबल के निचे से ही उनके खाने की फ़ोटो लेने की नाक़ाम कोशिश की लेकिन उन्होंने ने अपनी फ़्लैश लाइट ऑन कर रखी थी जिससे पूरे रेस्टोरेंट में चमक बिखर गई |

इतना देखते हीं रेस्टोरेंट के मालिक श्री बगुला प्रसाद ने अपने कर्मचारियों को बुलाया और नितिन की तबियत से कुटाई की और उनसे सब की प्लेटें धुलवाई |
प्लेट धोने में नितिन के नख़रे भी कम नहीं थें और उन्होंने dishwasher machine की माँग कर दी , ये सुनते हीं बगुला प्रसाद ने फिर से एक राउंड पिटाई करवाई |

बताया जाता है की नितिन को कई रेस्टोरेंट में दूसरों की थाली से फ़ोटो लेते और इंस्टाग्राम पे शेयर करते देखा गया हैं | उनके दोस्तों में ये बात आग की तरह फ़ैल गई |
दोस्तों के unfollow करने की धमकी पे नितिन ने सब को समोसे – जलेबी खिला मनाने की कोशिश की |

इस पिटाई के तुरंत बाद नितिन को गोलगप्पे की दूकान के सामने फिर से दूसरे की कटोरी में झांकते देखा गया , फ़ोटो लेकर नितिन वहाँ से फ़रार हो गए |

रिपोर्टर – Xtramous

प्रदूषण की कमी से दिल्ली के पाँच युवक बैंगलोर में पड़े बीमार | डॉक्टरों ने धुवें की कमी को दिया दोष , दो दिनों के लिए मरथाहल्ली में रहने की दी सलाह |

तहसीन ,विवेक और मनीष की प्रोफाइल पिक्चर

बीतें शुक्रवार एक दिल दहला देने वाली घटना में दिल्ली से बैंगलोर गए पांच दोस्त शीतांशु ,तहसीन , आदित्या,विवेक और मनीष को तब अस्पताल में भर्ती करना पड़ा जब फेफड़ों में कम प्रदुषण के कारण बैंगलोर एयरपोर्ट पे हीं उनकी तबियत बिगड़ गई |

रोजगार की तलाश में ‘अच्छे दिन ‘ के सपने संजोते इन नौजवानों को ये आशंका भी नयी थी की बैंगलोर के साफ़ वातावरण उनके लिए मुसीबत ले के आ रही हैं |
दिल्ली के राजेन्दर नगर के ये निवासी बचपन से इसी प्रदूषण में खेल के बड़े हुए थें |

राजधानी से मास्क पहन के निकले इन नवयुवकों को संदेह तब हीं हो गया जब हवाई जहाज़ में पायलट ने कहा की ‘बैंगलोर का मौसम साफ है और प्रदूषण की कोई आशंका नहीं है ‘, इस चेतावनी पे तहसीन ने ये ब्यान दिया की ‘ये सब तो बस कहने -सुनने की बातें होती हैं , ऐसा सच में थोड़ी होता है ‘ |

एयरपोर्ट पे उतरते ही सबसे पहले मनीष को साफ़ हवा का दौरा पड़ा, इससे पहले की कोई कुछ समझ पाता , धीरे-धीरे पांचो युवक वहीं चित हो गए |
प्रशाशन की तारीफ करनी होगी जिन्होंने तेज़ी से कदम उठाया और मात्र तीन दिन में बैंगलोर एयरपोर्ट से इंद्रानगर का राश्ता तय किया |

डॉक्टरों ने सभी युवक को स्मोक चैम्बर में दो दिन रखने के बाद घर जानें की इज्जाजत दी | उन्हें सलाह दिया गया है की सप्ताह मैं तीन दिन मरथाहल्ली के चक्कर लगाए और ज्यादा जी घबराने पे तुरंत whitefield रवाना हो जाए |

दिल्ली में इस दिन को एक काले दिवस की तरह मनाया गया और लोगों ने फेसबुक की ब्लैक डॉट लगा के इस का बहिष्कार किया |

रिपोर्टर – नितिन कमल

काउंटर स्ट्राइक खेल बी.आई.टी. के छात्र ने लिया इंडियन आर्मी में प्लेसमेंट | पाकिस्तानी सेना में भय का माहौल ,सर्वर बनाने वाले सीनियर को दिया सफलता का श्रेय |

पूरी शिद्दत से काउंटर स्ट्राइक खेलते बी.आई.टी. के होनहार छात्र

प्लेसमेंट सीजन के चौथे दिन बी.आई.टी. के छात्र अरिजीत सरकार ने इतिहास में अपना नाम दर्ज करवा लिया | कंप्यूटर साइंस के छात्र अरिजीत जिन्हें बच्चे डॉक्टर के नाम से जानते थें उनका बचपन का ख्वाब आज सच हो गया |

पिस्तौल की एक गोली से दो -दो बन्दे मारने वाले अरिजीत आज अपने सभी बैच मैट्स से कई कोषों दूर निकल गए | इंडियन आर्मी की नज़र अरिजीत पे तब पड़ी जब एक मैच में उन्होंने थप्पड़ मार के दो उग्रवादियों (टेर्रोरिस्ट) को लहू – लुहान कर दिया |

कहा जाता है की अरिजीत अपने स्नाइपर की आवाज से सामने वाली टीम के रोंगटे खड़े कर देते हैं | आज एक-47 ले कर कॉलेज पहुचे इस शख्स को देखने के लिए कॉलेज के स्टूडेंट्स के अलावा बगल के गाँव सीतारामपुर से भी लोग पहुंचे | अरिजीत ने कॉलेज कैंपस में जब दो गोली चला के बन्दूक को रीलोड किया तो बच्चों ने तालियों की गरगराहट से उनका अभिनन्दन किया |

अपने सफलता का श्रेय अरिजीत ने सर्वर बनाने वाले आशीष को दिया | कॉलेज के प्रोफेसर्स ने अरिजीत की कम अटेंडेंस को नजरअंदाज करने का फैसला लिया है |

दूसरी तरफ सीमा पार से ये खबर आ रही है की पाकिस्तानी सेना इस बात से सकते में है | सेना प्रमुख परवेज ने कहा की उन्होंने अरिजीत से शांति की पहल शुरू कर दी है|
अरिजीत ने हालांकि इस बात का खंडन करते हुए ब्यान दिया है की उनका जीओ का नेटवर्क ही नहीं आ रहा था तो बात कहाँ से होती ?
इस ब्यान पे सिम कंपनी के मालिक मुकेश अम्बानी ने चिंता व्यक्त की है |

रिपोर्टर – नितिन कमल

मेस के मटर पनीर में मिले पनीर के दो टुकड़े , हॉस्टल में अफ़रा तफ़री का माहौल | मेस इंचार्ज समेत चार गिरफ्तार

मटर पनीर में पाए गए दो पनीर के टुकड़े

झारखण्ड के बिरला इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी के हॉस्टल नंबर पांच में तब अफरा तफरी मच गई जब मेस में खाना खाने गए एक छात्र ने मटर पनीर के पतीले में पनीर के दो टुकड़ो को तैरते देखा , नाम को गोपनीय रखने के शर्त पे नीरज शर्मा जो हॉस्टल पांच के रूम नंबर 404 मैं रहते हैं उनहोंने बताया की अभी पनीर के सदमे से वो उभरे भी नहीं थें की तड़के वाले दाल को देख उनकी आंखें नम हो गई |

ये खबर हॉस्टल में आग की तरह फ़ैल गई और बॉयज हॉस्टल के साथ साथ गर्ल्स हॉस्टल के बच्चे भी इस अविश्वश्नीय पल को देखने हॉस्टल पांच पहुंच गए |
बच्चो ने पनीर की सब्जी के साथ सेल्फी भी लीं | अपने घर वालों को वीडियो कॉल पे ये तस्वीर दिखते हुए पंकज त्रिपाठी ने कहा की ऐसा मंजर पिछली बार 2014 मैं देखा गया था |

हलाकि मेस इंचार्ज ने ऐसी किसी भी बात की ना होने की पुष्टि की है , लेकिन उनका सुनता ही कौन है ?
मौके पे पुलिस समय और पनीर ख़तम होने के पहले हीं पहुंच गई और मेस इंचार्ज समेत चार को गिरफ्तार कर लिया , उनपे बच्चों के भविष्य और सेहत के साथ खेलने का इल्जाम लगा है |

एक तरफ जहाँ कॉलेज के चांसलर ने इस घटना की खोज बीन के लिए एक कमिटी की घोसना की तो दूसरी तरफ चौथे वर्ष के बच्चों ने कैंटीन और जोमैटो से आर्डर ना कर के इस दिन को यादगार बना दिया |

बाद में यही सारे सीनियर्स बाहर चाचा की मैग्गी की दुकान पे cheese मैग्गी निपटाते दिखे |

रिपोर्टर – नितिन कमल

सीक्रेट सांता खेलते दो कर्मचारी हुए घायल , हस्पताल में गिफ्ट मिलने पे आया होश |

आईटी कम्पनीज़ के सबसे बड़े त्यौहार सीक्रेट सांता खेलते समय माइक्रोसॉफ्ट के दो कर्मचारी घायल हो गए | बताया जाता है की ये खेल सिर्फ अनुभवी कर्मचारियों के निरक्षण में खेला जाता है |

सूत्रों के मुताबिक रमेश और सुरेश जो बचपन से इस खेल की तैयारी कर रहे थे , उन्हें उस समय चोट लग गई जब उन्हें अपने सांता का नाम अनुमान लगाने को कहा गया |
रमेश के गलत नाम गेस करने पे एक कार्य करने की सज़ा मिली , जिसके तहत उसे सुप्रिया के लिए एक गाना गाना था |

रमेश ने ऐसे सुर लगाए की सुप्रिया वहीं बेहोश हो गई , होश आते ही सुप्रिया के टीम वालों ने दोनों की जम के धुनाई की | पिटाई देखने पहुंचे रमेश के दोस्तों ने भी अपने हाथ साफ कर लिए |

हालत ख़राब होता देख खुद सांता को बीच -बचाओ के लिए आना पड़ा | सांता ने इस खेल का विरोध किया और नियमों मैं बदलाओ का आग्रह किया |

नारायणा हॉस्पिटल में भर्ती रमेश और सुरेश को होश में लाने के लिए गिफ्ट देने का वादा किया गया , जिसे सुनते हीं दोनों उठ खड़े हुए |

रिपोर्टर – नितिन कमल

दारू पीने के बाद युवक ने किया उत्पात करने से इंकार , फ्लैट वालों ने काला जादू का लगाया आरोप ।

दारु पी के दांत दिखाते श्री अनिमेष की प्रोफाइल पिक्चर

पुणे निवासी श्री अनिमेष जो कि एक IT कंपनी में काम करने की एक्टिंग करते हैं, अपने आदत के विरुद्घ दारू पीने के बाद किसी प्रकार का उत्पात नही करते पाए गए ।
इस सनसनी घटना पे

उनके साथ कमरा साझा करने वाले पीयाक श्री निरंजन से जब पूछ-ताछ की गयी तो उन्होंने गुटखा थूकते हुए कहा कि ऐसा पिछले 4 साल में पहली बार हुआ है जब अनिमेष ने दारु पीने के पश्चात् किसी प्रकार की हुरदंग ना की हो ।

गौर करने की बात ये है कि अनिमेष इस बार बाथरूम के जगह अपनी बिस्तर पर सोते पाए गए । उनके इस हरकत के वजह से उनके फ्लैट में काफी मायूसी छा गयी है । अब उन्हें यही डर है कि उनका हर सप्ताहांत में उन लोगों का मनोरंजन कौन करेगा ? दीवाल से बात , सेल्फ – स्टार्ट बाइक पे किक खोजना और हाथ में ग्लास लेकर अपना पेग खोजना , कौन करेगा ?

इन सवालों का जवाब तो सिर्फ अनिमेष ही दे सकते हैं

सुबह होने पर ये खबर पूरे हिंजेवाड़ी के दरुआहा समूह में आग के तरह फैल गयी । उनके फ्लैट के बाहर शुभचिंतकों की कतार लगी हुई है । सूत्रों से पता चला है कि अनिमेष जी पर काला जादू किये जाने की संभावना है ।

समाचार लिखे जाने तक श्री अनिमेष का ईलाज खैनी वाले बाबा के पास शुरू हो चुका था ।

रिपोर्टर – शिवा गाँधी
कैमरा मैन – नितिन कमल

काम खत्म कर शुक्रवार को समय से निकला प्राइवेट कंपनी का कर्मचारी , मैनेजर ने की निंदा , कर्मचारियों ने पुतले जलाए |

बैंगलोर के आई.टी.पी.एल. के एक कंपनी जिसका नाम गोपनीय रखा गया है वहां से खबर आई है की बीते शुक्रवार को एक कर्मचारी को शाम पांच बजे ऑफिस से निकलते देखा गया है |

शाम की चौथी चाय पी के वापस आते समय अरविन्द ने जब केशव को बैग टाँग के ऑफिस से निकलते देखा तो उनके कदमों के नीचे से जमीन खिसक गई |
दो चाय और पीने के बाद जब अरविन्द अपने स्थान पे लौटे तोह वहां केशव को ना देख उन्हें गहरा सदमा लगा |

मैनेजर श्री राजीव शर्मा ने केशव के इस कदम के कड़ी निंदा की और बैग उठा के गुस्से मैं चम्पत हो गए , बाद मैं उन्हें मैक डॉनल्ड्स मे बर्गर लपेटते देखा गया |

केशव के प्रिये मित्र बंटी ने बताया की केशव काफी मेहनती और गुणकारी लड़का था लेकिन इसका ये मतलब नहीं की वो समय से पांच घंटे पहले काम खत्म कर ले | पुतला गैंग के नेता श्री धीरज ने बिना कुछ जाने-समझे ही दो पुतलों का आर्डर दे दिया , शाम को पुतले जलने के साथ-साथ समोसों की व्यवस्था देख बाकी कर्मचारियों में भी ‘फन फ्राइडे ‘ को ले के विश्वास वापस से जाग उठा है |

मौके पे मौजूद लोगो ने बताया की शुक्रवार को जल्दी घर जाना एक गलत विचारधारा है जिससे कर्मचारियों में ‘घर पे ज्यादा समय देने ‘ और ‘वर्क -लाइफ बैलन्स ‘ जैसे विचार पैदा होते हैं | पुतला जलाने के बाद सभी कर्मचारियों ने शनिवार और रविवार को भी ऑफिस आने का वादा किया है

केशव की सभी छुट्टियाँ और दो महीने की तनख्वाह काट ली गई है |

रिपोर्टर – नितिन कमल

पढाई कर परीक्षा देने पंहुचा बैकबेंचर , शिक्षकों मे उत्साह लेकिन टोपर बच्चों ने की धुनाई |

बैक बेंचेर की पिटाई करने के बाद उत्साहित टॉपर

बिहार के पटना जिला के दानापुर इलाके की एक घटना ने सबको चौंका दिया है | सूत्रों के अनुसार ज्ञान निकेतन स्कूल के सातवीं के छात्र रामानंद तिवारी जिन्हे पिछले सात सालोँ में  कुल मिला के चालीस नंबर आए हैं, उनके बैग से साइंस की पुस्तक और क्लासमेट के चार पेज लिखे जाने की खबर है | बताया ये भी जाता है की रामानंद को पिछले रात पढ़ते हुए भी देखा गया था  |

परीक्षा सात जून को थी और वहां भी रामानंद को चीट बनाते देखा गया , उनके इस साहसी कदम से टीचर्स में  उमंग की लहार दौड़ गई | प्रिंसिपल श्री डी.के. मुखर्जी ने कैंटीन से समोसे और जलेबिया वितरित की |

रामानंद के इस प्रदर्शन को देखते हुए कुछ छात्र नाराज भी दिखे , क्लास एक मात्र नब्बे प्रतिशत लाने वाले छात्र अमन ने मौके पे ही रामानंद की कुटाई कर दी | पूछे जाने पे अमन ने गालियों के अलावा और कोई बयान नहीं दिया और अपना बेल्ट दिखते हुए स्कूल से भाग गए |

अमन की तलाश जारी है और रामानंद को पटना के हॉस्पिटल में इलाज किया जा रहा है , गौर करने की बात ये भी है की इलाज उनके चोटों का नहीं उनके दिमाग का किया गया है |

रामानंद के घनिस्ट दोस्तों ने उसके इस घिनौने कदम का जम कर आलोचना किया है और विरोध में सारी किताबें जलाने के बाद हेडमास्टर का सिर भी फोड़ दिया |

रिपोर्टर –  नितिन कमल 

प्याज के साथ पकड़ा गया युवक , महिलाओ ने की कुटाई |

एक सनसनीखेज घटना मे दिल्ली के करोल बाघ इलाके मैं एक युवक जिसका नाम छोटे लाल बताया जा रहा है को सात बड़े प्याज और तीन छोटे प्याजों के साथ पकड़ा गया है | घटना सुबह के 7 बजे घटी जब इलाके की ही एक गृहणी सुष्मिता देवी ने छोटे लाल को सुबह खुश देखा और इनका शक तब यकीन मैं बदल गया जब छोटे लाल के घर से प्याज वाले तरके की महक भी आने लगी |

सुष्मिता देवी ने अपनी बेस्ट फ्रेंड अचम्भा देवी के साथ छोटे लाल के घर पे धावा बोल दिया | जब तक दोनों पहुंचते तब तक तड़का लग चूका था, दाल चकने के बाद प्याज की उसमे होने की पुष्टि की गई |

दो प्याज से हाथ धोने के बावजूद इलाके मैं आठ प्याज पाए जाने से ख़ुशी का माहौल है | लोगों ने 6 महीने बाद अपने हाथो से प्याज छू कर उनके सच्चे होने की पुष्टि की |

छोटे लाल को अगले दो साल तक तड़का लगाने से मना किया गया है और सुष्मिता देवी की मूर्ति लगाने का वादा किया गया है |

रिपोर्टर – नितिन कमल