काम खत्म कर शुक्रवार को समय से निकला प्राइवेट कंपनी का कर्मचारी , मैनेजर ने की निंदा , कर्मचारियों ने पुतले जलाए |

बैंगलोर के आई.टी.पी.एल. के एक कंपनी जिसका नाम गोपनीय रखा गया है वहां से खबर आई है की बीते शुक्रवार को एक कर्मचारी को शाम पांच बजे ऑफिस से निकलते देखा गया है |

शाम की चौथी चाय पी के वापस आते समय अरविन्द ने जब केशव को बैग टाँग के ऑफिस से निकलते देखा तो उनके कदमों के नीचे से जमीन खिसक गई |
दो चाय और पीने के बाद जब अरविन्द अपने स्थान पे लौटे तोह वहां केशव को ना देख उन्हें गहरा सदमा लगा |

मैनेजर श्री राजीव शर्मा ने केशव के इस कदम के कड़ी निंदा की और बैग उठा के गुस्से मैं चम्पत हो गए , बाद मैं उन्हें मैक डॉनल्ड्स मे बर्गर लपेटते देखा गया |

केशव के प्रिये मित्र बंटी ने बताया की केशव काफी मेहनती और गुणकारी लड़का था लेकिन इसका ये मतलब नहीं की वो समय से पांच घंटे पहले काम खत्म कर ले | पुतला गैंग के नेता श्री धीरज ने बिना कुछ जाने-समझे ही दो पुतलों का आर्डर दे दिया , शाम को पुतले जलने के साथ-साथ समोसों की व्यवस्था देख बाकी कर्मचारियों में भी ‘फन फ्राइडे ‘ को ले के विश्वास वापस से जाग उठा है |

मौके पे मौजूद लोगो ने बताया की शुक्रवार को जल्दी घर जाना एक गलत विचारधारा है जिससे कर्मचारियों में ‘घर पे ज्यादा समय देने ‘ और ‘वर्क -लाइफ बैलन्स ‘ जैसे विचार पैदा होते हैं | पुतला जलाने के बाद सभी कर्मचारियों ने शनिवार और रविवार को भी ऑफिस आने का वादा किया है

केशव की सभी छुट्टियाँ और दो महीने की तनख्वाह काट ली गई है |

रिपोर्टर – नितिन कमल

2 thoughts on “काम खत्म कर शुक्रवार को समय से निकला प्राइवेट कंपनी का कर्मचारी , मैनेजर ने की निंदा , कर्मचारियों ने पुतले जलाए |”

  1. Ee to saala hona hi tha. Kya samjhe the? Aise hi Nikal jayenge aur koi kuchh nhi bolega? PARMISSION Leni chair thi!!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *