पढाई कर परीक्षा देने पंहुचा बैकबेंचर , शिक्षकों मे उत्साह लेकिन टोपर बच्चों ने की धुनाई |

बैक बेंचेर की पिटाई करने के बाद उत्साहित टॉपर

बिहार के पटना जिला के दानापुर इलाके की एक घटना ने सबको चौंका दिया है | सूत्रों के अनुसार ज्ञान निकेतन स्कूल के सातवीं के छात्र रामानंद तिवारी जिन्हे पिछले सात सालोँ में  कुल मिला के चालीस नंबर आए हैं, उनके बैग से साइंस की पुस्तक और क्लासमेट के चार पेज लिखे जाने की खबर है | बताया ये भी जाता है की रामानंद को पिछले रात पढ़ते हुए भी देखा गया था  |

परीक्षा सात जून को थी और वहां भी रामानंद को चीट बनाते देखा गया , उनके इस साहसी कदम से टीचर्स में  उमंग की लहार दौड़ गई | प्रिंसिपल श्री डी.के. मुखर्जी ने कैंटीन से समोसे और जलेबिया वितरित की |

रामानंद के इस प्रदर्शन को देखते हुए कुछ छात्र नाराज भी दिखे , क्लास एक मात्र नब्बे प्रतिशत लाने वाले छात्र अमन ने मौके पे ही रामानंद की कुटाई कर दी | पूछे जाने पे अमन ने गालियों के अलावा और कोई बयान नहीं दिया और अपना बेल्ट दिखते हुए स्कूल से भाग गए |

अमन की तलाश जारी है और रामानंद को पटना के हॉस्पिटल में इलाज किया जा रहा है , गौर करने की बात ये भी है की इलाज उनके चोटों का नहीं उनके दिमाग का किया गया है |

रामानंद के घनिस्ट दोस्तों ने उसके इस घिनौने कदम का जम कर आलोचना किया है और विरोध में सारी किताबें जलाने के बाद हेडमास्टर का सिर भी फोड़ दिया |

रिपोर्टर –  नितिन कमल